अजब खुलासा:- मर्डर केस के सबूत तो बंदर लेकर भाग गया

सबसे हटकर - सबसे अलग, सत्य के साथ राजस्थान की आवाज।

अजब खुलासा:- मर्डर केस के सबूत तो बंदर लेकर भाग गया

जयपुर।  क्या आपने कभी सुना है कि किसी मर्डर केस में पुलिस राजस्थान पुलिस ने सबूत जुटाए हों और कोर्ट में पेश करने से पहले ही उसे बंदर लेकर भाग जाए? सुनने में थोड़ा अजीब जरूर लगा होगा लेकिन जयपुर में पुलिस ने एक युवक की हत्या के मामले में कोर्ट को यही जानकारी दी है। पुलिस ने बताया कि 2016 में हुई इस हत्या के मामले में आरोपी को गिरफ्तार किया गया था, साथ ही सबूत भी जुटाए थे। हालांकि, जब कोर्ट में सुबूत पेश करने की बारी आई तो पुलिस ने कहा कि मर्डर के सबूत बंदर लेकर भाग गया। ये मामला जयपुर की निचली अदालत में सामने आया है। पुलिस ने कहा कि उन्हें सितंबर 2016 में जयपुर के चंदवाजी थाना इलाके के एक प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में शशिकांत शर्मा नाम के युवक का शव मिला था। परिजनों ने उनकी हत्या की आशंका जताई और आरोपियों पर कार्रवाई की मांग को लेकर प्रदर्शन भी किया। जिसके बाद पुलिस ने जांच तेज की। इस दौरान मिले सबूतों से मर्डर की बात स्पष्ट हो गई। पुलिस ने हत्या में इस्तेमाल हथियार और दूसरे सबूत भी जब्त कर लिए।
युवक का शव मिलने के पांच दिन बाद इस मामले में पुलिस ने चांदवाजी के रहने वाले राहुल कंदेरा और मोहनलाल कंदेरा को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने इन दोनों को हत्या के आरोप में अतिरिक्त जिला जज की कोर्ट में पेश भी किया था। इस दौरान पुलिस ने कोर्ट को बताया कि उन्होंने मर्डर केस में 15 सबूत एकट्ठा किया था। जिसमें हत्या में इस्तेमाल चाकू भी था। हालांकि, जब कोर्ट में सबूत देने की बारी आई तो कोर्ट ने बताया कि सबूत वाला बैग बंदर लेकर भाग गया।
पुलिस ने कोर्ट को लिखित जानकारी दी है कि हत्या में इस्तेमाल चाकू सहित दूसरे सबूत बंदर लेकर भाग गया। पुलिस ने बताया कि सबूत को उन्होंने एक बैग में रखा था। मालखाने में जगह की कमी के चलते बैग को थाने में एक पेड़ के नीचे रखा गया था। वहीं से एक बंदर इसे लेकर भाग गया। जब कोर्ट ने पुलिस से सबूत पेश करने के लिए कहा तो उन्होंने लिखित बयान में सबूतों से भरा बैग चोरी होने की जानकारी दी।