आसा संस्था द्वारा ड्राई राशन किट वितरण कार्यक्रम का आयोजन।

सबसे हटकर - सबसे अलग, सत्य के साथ राजस्थान की आवाज।

आसा संस्था द्वारा ड्राई राशन किट वितरण कार्यक्रम का आयोजन।

आसा संस्था द्वारा दिनांक 03/09/2021 को एचडीएफसी परिवर्तन परियोजना के तहत ग्राम खाताखेडी में ड्राई राशन किट वितरण कार्यक्रम का आयोजन किया गया । जिसमें 3 गांव (चकनारायण, कमठानी, खाताखेडी) के कोरोना काल में प्रभावित हुए 24 हितग्राहियों को ड्राई राशन किट प्रदान की गई ।

इस कार्यक्रम के पूर्व संस्था द्वारा दिनांक 26/08/2021 को नावटीया में 6 गाँव (नावटीया, कुम्हारवाड़ी, सिपेडा, गिदवानिया, चौकी और उमरना) में 48 हितग्राहियों को तथा दिनांक 27/08/2021को सेकड़ीसुल्तानपुर में 6 गाँव (सेकड़ीसुल्तानपुर, कडीयाली, लुहारी, संडावदा, गिडावदा और मगदानी) में 48 हितग्राहियों को इस तरह से कुल 15 गाँव के 120 प्रभावित एवं अतिगरीब परिवारों को ड्राई राशन किट वितरित किया गया ! 
इस किट में 10 प्रकार की खाद्ध सामग्री जैसे 10 किलों आटा, 2 किलो अरहर दाल, 2 किलो शकर, 250 ग्राम चाय पत्ती, 200 ग्राम मिल्क पाउडर, 100 ग्राम लाल मिर्च, 100 ग्राम हल्दी पावडर, 100 ग्राम धनीया पाउडर, 1 लीटर सोयाबीन तेल, 1 क़िलों नमक दिया गया। 

कार्यक्रम के मुख्यअतिथि श्रीमती वैष्णवी धाकड (ब्लाक परियोजना प्रबंधक) डे-एस.आर.एल. एम्. खाचरोद ने कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए कहा गया कि महिला सशक्तिकरण एवं महिलाओं के समूह बनाकर उनकी छोटी छोटी मासिक बचत कर वित्तीय रुप से सहयोग प्रदान करने एवं महिलाओं की आजीविका बढ़ने के बारे में बताया गया ! 

श्री निलेश सिंह ठाकुर (ब्रांच मेनेजर-एचडीएफसी बैंक खाचरोद) ने बताया की आसा संस्था द्वारा विगत एक साल से परियोजना क्षेत्र के गांवों में बहुत ही सराहनीय कार्य किये जा रहे हैं एचडीएफसी बैंक द्वारा जो वित्तीय मदत संस्था को की जा रही  है वे सभी कार्य जमीनी स्तर पर देखने को मिल रहे है और उनके द्वारा किसानों को बैंकिंग से जुड़े योजनाओं के बारे में बताया गया!
डॉ. वरण सिंग सर ने आसा संस्था द्वारा देश के विभिन्न राज्यों में ग्रामीण विकास एवं किसानों की समृद्धि के लिए किए जा रहे कार्यों को विस्तार से बताया तथा एच.डी.एफ.सी. परियोजना के बारे में एवं किसान उत्पादक संगठन की क्षेत्र में आवश्यकता के बारे में अपने विचार व्यक्त किये गए।

श्री सुनील सिंह जी (नाफेड) में बताया की संस्था के द्वारा किसानों की उपज को बाजार से जोड़ने के लिए परियोजना काफी काम कर रही है नाफेड द्वारा इस वर्ष मदवड़ा वेयरहाउस पर रतलाम किसान कम्पनी जोकि आसा संस्था द्वारा प्रोत्साहित की जा रही है उसने इस वर्ष 26348 क्विंटल प्याज की किसानों से खरीदी करने का कार्य किया है जिससे किसानों को बाजार मूल्य पर प्याज का भुगतान सीधे खाते में किया गया !  

एच.डी.एफ.सी. परियोजना खाचरौद के टीम लीडर श्री आशीष कुशवाहा द्वारा परिवर्तन परियोजना में अब तक किये गए कार्यों जैसे सोलर स्ट्रीट लाइट, सोलर होम लाइट, भूमि एवं जल संसाधन विकास कार्यों, जैविक कृषि को प्रोत्साहित करने, स्कूल एवं आंगनवाड़ी केंद्रों में बेहतर शिक्षा हेतु मुलभुत सुविधाएं उपलब्ध कराने, किसानों की उपज को बाजार से जोडने जैसे कार्यों पर विस्तार पूर्वक अपनी बात रखी।

कार्यक्रम के मुख्य श्रीमती वैष्णवी धाकड (ब्लाक परियोजना प्रबंधक) डे-एस.आर.एल. एम्. खाचरोद, श्री निलेश सिंह ठाकुर (ब्रांच मेनेजर-एचडीएफसी बैंक खाचरोद), डॉ वरुण सिंह जी (आसा संस्था रतलाम कार्यालय के प्रोग्राम मैनेजर), आशीष कुशवाह (एच.डी.एफ.सी. परियोजना खाचरौद), निधी जोशी, कैलाश चंद शर्मा व सिकंदर खान उपस्थित रहे। 

इस अवसर पर परियोजना क्षेत्र के सभी ग्रामीण जन उपस्थित थे । कार्यक्रम का संचालन आशीष कुशवाहा ने किया एवं आभार विलेज रिसोर्स पर्सन सिकन्दर खान ने माना।