भामाशाह हनुमान हत्था में भाटी परिवार के मात्र बाप बेटी एक ही बात पर कायम

भामाशाह हनुमान हत्था में भाटी परिवार के मात्र बाप बेटी एक ही बात पर कायम

भामाशाह हनुमान हत्था में भाटी परिवार के मात्र बाप बेटी एक ही बात पर कायम

बीकानेर जिला अपने आप में धर्म नगरी से पूरे भारत में प्रसिद्ध है भारत के साथ राजस्थान में धर्म कर्म करने में बीकानेर के लोग अग्रणी रहते हैं। ऐसा ही उदाहरण शहर के भीतरी भाग हनुमान हत्था में भाटी परिवार के मात्र बाप बेटी ने एक ही बात पर कायम हैं कि आम आदमी भूखा रहता है तो जेसे तेसे कर अपना पेट भर लेता है लेकिन जो पशु इस घोर संकट में भूखे तीसे खड़े नजर आते हैं मगर उनकी सेवा करने के लिए आम भामाशाह का ध्यान कम जाता है मगर इस बाप बेटी ने प्रतिदिन हर रोज सुबह दो घण्टे समय निकालते हैं जिसमें गायों को खल चुरी चारा व कबूतरों को चूगा व पीने का पानी तक हर रोज व्यवस्था करते हैं भाटी परिवार के विजय सिंह भाटी ने हमारे साथ बातचीत में बताया कि मेरी बेटी तृप्ति ने इस काम करने के लिए प्रेरित करती है जो हर रोज जब से करोना शुरू हुआ तब से लेकर आज तक इस नेक काम में लगे हुऐ हैं