शहरी क्षेत्र में मिलेगी सौ दिन के रोजगार की गारंटी, शीघ्र शुरू होगी इंदिरा गांधी शहरी रोजगार गारंटी योजना

जिला कलक्टर ने ली तैयारी बैठक, वार्षिक कार्य योजना बनाने के दिए निर्देश

शहरी क्षेत्र में मिलेगी सौ दिन के रोजगार की गारंटी, शीघ्र शुरू होगी इंदिरा गांधी शहरी रोजगार गारंटी योजना

शहरी क्षेत्र में मिलेगी सौ दिन के रोजगार की गारंटी, शीघ्र शुरू होगी इंदिरा गांधी शहरी रोजगार गारंटी योजना

जिला कलक्टर ने ली तैयारी बैठक, वार्षिक कार्य योजना बनाने के दिए निर्देश

बीकानेर, 14 मई। शहरी क्षेत्रों में जरुरतमंद लोगों को सौ दिन का रोजगार देने वाली इंदिरा गांधी शहरी रोजगार गारंटी योजना शीघ्र ही शुरू होगी। जिला कलक्टर भगवती प्रसाद कलाल ने शनिवार को इसकी तैयारियों के संबंध में बैठक ली तथा नगरीय निकाय वार वार्षिक कार्य योजना शीघ्र तैयार करने के निर्देश दिए।
जिला कलक्टर ने बताया कि इस योजना के तहत वार्डों की साफ-सफाई, पौधरोपण, पार्कों एवं पेड़-पौधों के रख-रखाव, तालाब, बावड़ी आदि पारम्परिक जल स्त्रोतों की सफाई, कचरा संग्रहण, हॉर्डिंग हटाने जैसे कार्य करवाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि इसके मद्देनजर प्रत्येक नगरीय निकाय कार्य योजना बनाएं, जिससे इन कार्यों को स्वीकृत किया जा सके। उन्होंने बताया कि इच्छुक लोगों के जॉब कार्ड जनरेट किए जाएंगे तथा मांग के आधार पर रोजगार उपलब्ध करवाया जाएगा। योजना के तहत शहरों में निवास करने वाले 18 से 60 वर्ष के बेरोजगार सदस्य को रोजगार मिलेगा। इसके लिए ऑनलाइन आवेदन करना होगा। पंजकीरण के लिए जन आधार कार्ड अनिवार्य होगा।

जिले में खुलेंगे 26 नए इंदिरा रसोई

जिला कलक्टर ने बताया कि जिले में 26 नए इंदिरा रसोई खोले जाएंगे। इनमें बीकानेर नगर निगम में 20, श्रीडूंगरगढ़ एवं नोखा में दो-दो तथा खाजूवाला एवं देशनोक में एक-एक नए इंदिरा रसोई सम्मिलित हैं। जिला कलक्टर ने इनके लिए शीघ्र ही स्थान चिन्हित करने के निर्देश दिए। साथ ही वर्तमान में संचालित इंदिरा रसोईयों में भोजन की गुणवत्ता का विशेष ध्यान देने के लिए निर्देशित किया। उन्होंने कहा कि खाना अच्छा हो तथा साफ-सफाई एवं आधारभूत व्यवस्थाओं का विशेष ध्यान रखा जाए।

क्रेडिट कार्ड योजना के तहत करवाएं आवेदन

जिला कलक्टर ने इंदिरा गांधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना के तहत और अधिक आवेदन करवाने तथा ़ऋण स्वीकृति के लिए बैंकों के साथ समन्वय के आधार पर कार्य करने के निर्देश दिए। उन्होंने बताया कि जिले में 20 हजार 147 के लक्ष्य के विरूद्ध अब तक लगभग 12 हजार आवेदन करवाए गए हैं। चारों नगरीय निकाय क्षेत्रों में आवेदन के लिए विशेष प्रयास किए जाएं।
इस दौरान नगर निगम आयुक्त गोपाल राम बिड़दा, अतिरिक्त जिला कलक्टर (प्रशासन) ओम प्रकाश, अतिरिक्त कलक्टर (नगर) पंकज शर्मा सहित तीनों नगर पालिकाओं के अधिशाषी अधिकारी मौजूद रहे।