दूसरे की जान बचाने के चक्कर में अपनी जान गवाह बैठा कार चालक

दूसरे की जान बचाने के चक्कर में अपनी जान गवाह बैठा कार चालक

पहले सड़क दुर्घटना में घायल ,फिर उपचार के दौरान जयपुर में हुई मौत

लक्ष्मणगढ कठूमर मार्ग पर स्थित जावली के तिबारे के समीप अचानक सड़क पर आये एक नीलगाय को बचाने के दौरान एक कार अपना संतुलन खोते हुए । खेत में पेड़ से जा टकराने से घायल कार चालक की जयपुर अस्पताल में  देर रात्रि दर्दनाक मौत हो गई। 

पुलिस थाना प्रभारी अजीत सिंह ने बताया कठूमर पुलिस थाना क्षेत्र के अंतर्गत गांव मंसारी निवासी सलमान खान पुत्र भूरा फकीर क़स्बा  कठूमर में मोबाईल की दुकान चलाता है। 3 अक्टूबर को सलमान खान अपने साथी के साथ दिल्ली दुकान का सामान लेने गया था। दिल्ली से वापस लौटते समय सलमान अपने साथी को लक्ष्मणगढ़ उतार कर देर रात्रि अपने गांव लौट रहा था। इस दौरान कठूमर मार्ग पर जावली के तिबारे के समीप अचानक सड़क पर आये नील गाय को बचाने के चक्कर में एक कार अनियंत्रित होकर पेड़ से जा टकराई। जिसमें कार चालक बुरी तरह फस कर जख्मी हो गया। लोगों ने इसकी सूचना पुलिस को दी। जिस पर एएसआई कन्हैयालाल मय पुलिस जाप्ते के मौकेेें पर पहुचे ।और बडी मुश्किल से कार में फंसे कार चालक सलमान को बाहर निकाला। बाद में घायल को पुलिस ने सरकारी वाहन से उपचार के लिए कस्बे के सामुदायिक  स्वास्थ्य केन्द्र में भर्ती करवाया। जहां चिकित्सकों ने प्राथमिक उपचार के बाद सलमान को जिला अस्पताल रैफर कर दिया। जहां भी सलमान को उपचार के लिए जयपुर सवाईमान अस्पताल रैफर कर दिया। जहां की देर रात्रि उपचार दौरान सलमान ने दम तोड़ दिया। इधर पुलिस ने मृतक के शव का पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों को सौप दिया। वही इस सम्बंध में मृतक के छोटे भाई अरमान फकीर ने स्थानीय थाना पुलिस में मामला दर्ज करवाया है। वही पुलिस ने मामले की रिपोर्ट दर्ज कर जांच प्रारम्भ कर दी है। और गांव के अंदर इस युवक की डेड बॉडी जब घर पहुंची तो संपूर्ण गांव में सन्नाटा छा गया और घर के अंदर कोहराम मच गया मृतक मोबाइल की दुकान कठूमर कस्बे के अंदर ही करता था जिसके चलते मृतक के मिट्टी दफन मैं कठूमर खेड़ली सहित क्षेत्र के अनेकों जगह से सैकड़ों की तादाद में लोग एकत्रित रहे।